लोकल न्यूज़

खागा/फतेहपुर। रविवार को सभी ग्राम पंचायतों के प्राइमरी स्कूलों में साक्षरता परीक्षा सकुशल संपन्न हुई। तहसील की सभी 244 ग्राम पंचायतों के परीक्षा केंद्रों में एक साथ परीक्षा दो शिफ्ट में कराई गई। इनमें ऐरायां विकास खंड में 44, विजयीपुर ब्लाक में 57 और हथगाम में 73 व धाता में 65 परीक्षा केंद्र बनाए गए …

राष्ट्रीय न्यूज़

नई दिल्ली कोयला घोटाले पर जहां संसद के भीतर कांग्रेस-भाजपा भिड़े पड़े हैं, वहीं पूर्व टीम अन्ना ने इन दोनों के खिलाफ सड़कों पर मोर्चा खोल दिया है। सियासी पार्टी के गठन से पहले अन्ना के दाहिने हाथ अरविंद केजरीवाल ने जनता के बीच इस मामले को ले जाकर अपने अभियान का श्रीगणेश कर दिया। …

प्रधान / सदस्य

ग्राम पंचायत दूल ब्लॉक : कल्याणपुर पोस्ट : भूल थाना : सचेंडी जिला : कानपुर पंचायत में कुल वार्डों की संख्या : 11 ग्राम प्रधानम : श्रीमति सुमित्रा देवी उम्र : 62 कार्य : ग्राम पंचायत के अंतर्गत आने वाले समस्त गाँव के विकास कार्य को देखना एवं उन गाँव का समुचित विकास करना. सचिव …

शिक्षा केंद्र

  प्राइमॅरी विधालयों की संख्या 03 स्थापना 2003-04 प्रधानाचार्य श्री राजेश कुमार यादव अध्यापक राकेश कुमार कुशवाहा अध्यापिका शिक्षा मित्र 2 छात्र 15 छात्राएँ 18 माध्यमिक विधालयों की संख्या 1 स्थापना 1992 प्रधानाचार्य श्री अबुलबारी अध्यापक अखिलेश,श्रवण कुमार अध्यापिका वंदना पांडेय,रज़िया ख़ातून छात्र 50 छात्राएँ 33 आँगन बाड़ी केंद्रों की संख्या 3 कार्यकर्ता इंटर कॉलेजों …

कृषि

गाँव में रबी, खरीफ व धन देने वाली फसल का उत्पादन होता है। देश में हरित क्रांति में जब से बिजली का आगमन हुआ तो किसानों के साथ खेती से जुडे लोगों की स्थिति ही बदल गई। इसके बाद खेतों में ट्यूब वेल लगे और किसानों नें खरीब की फसल के साथ ही रबी की …

रहन-सहन

इस गाँव का रहन-सहन लगभग साधारण ही है जैसा की हर गाँव में होता है यहाँ के लोग कच्चे एवं पक्के मकान में रहते है जो लोग ग़रीब है उनको सरकार की तरफ से इंदिरा आवास के तहत मकान दिए गये है और जो सक्षम है वे अपने बनाएँ हुए मकान में रहते है गाँव …

संसाधन / सुविधाएँ

प्रकतिक संसाधन ग्राम पंचायत में सभी गाँव मे कुल मिलाकर 01 पोखर  है जिनसे गाँव वालों का काम होता है इन पोखरों, नहर से खेतों की सिचाई, गाँव के जानवरों को पीने का पानी एवं गाँव के बच्चे इन पोखरों / नहर में नहाते है गाँव की महिलाएँ कपड़े आदि भी धोती है गर्मी के …

रोजगार

नौकरी: पंचायत में लगभग 20% लोग नौकरी करते है (सरकारी), 80% लोग किसानी, मजदूरी करते है फैक्टरी: इस ग्राम पंचायत के आस पास औधोगिक क्षेत्र नही है इस लिए यहाँ पर फैक्टरी कम या ना के बराबर है इस लिए लोगों के पास रोजगार कम है जिसके लिए उन्हे गाँव बाहर जाना पड़ता है | …

विकास कार्य

ग्राम पंचायत के द्धारा दो कच्चा नाले का निर्माण 2 किलोमीटर, 1 किलोमीटर(400 मीटर) का कार्य किया जा रहा है ताकी गाँव वालों को किसी की कमी ना हो यही ग्राम पंचायत का उद्देश्य है!